अनुकंपा पाल्यों का धरना 48 दिनों के बाद तत्काल स्थगित।


+1 Likes (1)

दरभंगा , 16 जनवरी  2019 बिहार के  ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय में अनुकंपा के आधार पर नियुक्ति का वर्षों से इंतज़ार कर रहे मृतक कर्मियों के आश्रितों का धरना प्रदर्शन आज 48 दिनों बाद तत्काल स्थगित। धरना की अध्यक्षता कर रहे उमेश शाह ने कहा कि कल दिनांक 15 जनवरी को ललित नारायण मिथिला महाविद्यालय एवं विश्वविद्यालय महासंघ के साथ माननीय कुलपति एवं कुलसचिव महोदय की वार्ता में विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा लिखित आश्वासन दिया गया कि 21 जनवरी से 25 जनवरी के बीच अनुकम्पा समिति की बैठक बुलायी जाएगी और उक्त बैठक में सभी पाल्यों के लिस्ट पर मुहर लगाकर जल्द से जल्द अधिसूचना जारी की जाएगी।इससे हम पाल्यों को आशा की आखिरी किरण दिखाई दे रही और कहा कि विश्वविद्यालय की मंशा अब साफ होती दिखाई दे रही इससे हम सभी पाल्यों में खुशियों की लहर।

विनय झा ने धरनार्थियों को किया संबोधित

महासंघ के प्रक्षेत्रीय मंत्री विनय झा ने धरनार्थियों को धरना स्थल पर संबोधित करते हुए तत्काल धरना को स्थगित करने का आवाहन किया और कहा कि अगर लिखित तिथि के आलोक में विश्वविद्यालय प्रशासन अगर ठोस करवाई नहीं करती है तो महासंघ विश्वविद्यालय प्रांगण में आन्दोलन को और तेज करने के लिए बाध्य हो जाएगी ,जिसकी सारी जवाबदेही विश्वविद्यालय प्रशासन की होगी।जिसका समर्थन सभी अनुकम्पा पाल्यों ने किया और कहा कि अगर इस बार विश्वविद्यालय प्रशासन ने हमारा विश्वास तोड़ा तो विश्वविद्यालय प्रांगण में उग्र प्रदर्शन करते हुए आर या पार की लड़ाई होगी। धरना दे रहे व्यक्तियों में राम धनुष पासवान,अंकित कुमार कामती, चेतकर झा,राकेश कुमार,शुभंकर कामत, गौरव विकाश, रणधीर मंडल, अजीत कुमार, जितेंद्र झा, शक्तिनाथ झा, राघव कुमार दीपक,  रामकुमार यादव, लालबाबू दास,अनिल पासवान, सुजीत सिंह, मुकेश कुमार, राजीव झा, अमित मिश्रा, संजीव कुमार, प्रीतम कुमार,  मनीष भगत,शाहनवाज अंसारी,राजाराम झा और सभी अनुकंपा साथी और उनके परिवारजन शामिल है।

 


Popular Videos


Comments